Animation क्या है पूरी जानकारी हिंदी मे




Hello Friends Tutorialsroot मे आपका स्वागत है आज हम आपको इस Post में Animation के बारे में बताने जा रहे है जिसमे आपको Animation के बारे में सीखने को मिलेगा हमे आशा है की पिछली बार की तरह इस बार भी आप हमारी Post को पसंद करेंगे. बहुत कम लोग ही जानते होंगे की Animation क्या है और इसका उपयोग कैसे और क्यों किया जाता है अगर आप इसके बारे में नही जानते तो कोई बात नहीं हम आपको इसके बारे में पूरी तरह से जानकारी देंगे इसके लिए हमारी Post को शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े.

Animation भारतीय मनोरंजन उद्योग का भविष्य है. यह अब फिल्मों ही नही Business, Sales, Engineering, Education और Advertisement के क्षेत्र का अहम हिस्सा बन गया है. Gaming, Fashion Designing, Interior Designing, Medical, Legal तथा Insurance Companies भी अपने Presentation के लिए Animation का उपयोग कर रही है. Animation Industry जिस रफ्तार से आगे बढ़ रही है उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि इसमे Creative लोगों के लिए हद से ज्यादा मौके है.

Animation की फिल्मों को लेकर बच्चों में हमेशा से उत्साह रहा है. इसे बड़े पैमाने पर वयस्क भी देखते है. बात चाहे Walt Disney's Mickey Mouse, Donald Duck, Tom End Jerry जैसे Popular Cartoon की हो या फिर Doraemon, Chhota Bhim आदि जैसे टीवी एनिमेशन किरदारों की देश भर के दर्शकों के ये पसंदीदा Character बन गए है हाल में रिलीज हुई फिल्म बाहुबली अपने 3-डी इफेक्ट्स की वजह से चर्चा में रही.

Animation क्या है - What is Animation in Hindi

Animation Latin Language के शब्द Anima से लिया गया है जिसका अर्थ है आत्मा. Animation एक ऐंसी Technology है जिससे कोई भी ऐंसा Image Object जो वास्तव में हिल नहीं सकता हो उसको चलते हुए या बोलते हुए या कुछ करते हुए दिखाया जाता है अगर Easy Language में कहा जाये तो यह किसी रुकी हुई Image पर जान डालना जैंसे है जिससे वह Image में कुछ Reaction दिखाई देता है. Animation को बनाने के लिए बहुत सी Image का Use किया जाता है जिनमे अलग अलग Reaction वाली Image होती है और इन्हें एक साथ High Speed से चलाया जाता है जिससे यह Reaction करती दिखाई देती है.

उदाहरण के लिए - यदि आपको को कुछ काम करने के लिए कहा जाये तो आप वह काम कर सकते है लेकिन अगर आपको उड़ने के लिए कहा जाये तो आप उड़ नहीं सकते जबकि Animation की सहायता से बनाई गयी किसी Video या Movie में आप इन्सान को उड़ता हुआ देख सकते है.

Animation के प्रकार - Types of Animation in Hindi

Animation तीन के प्रकार के होते है -

  • 2D Animation

  • 3D Animation

  • VFX Animation

2D Animation

2D Animation को हम 2 Dimension में Define करते है जैसे अपने पढ़ा होगा 10th में X Axis और Y Axis जैसे किसी भी Object का 2 हिसा दिखता है उसे 2D Animation कहते है.

3D Animation

3D Animation में हमें वस्तु की ऊंचाई, चौड़ाई और गहराई तीनों दिखती हैं, जबकि 2D Animation में सिर्फ ऊंचाई और चौड़ाई ही दिखती है. 2D और 3D दोनों के निर्माण के लिए अलग-अलग सॉफ्टवेयर इस्तेमाल किए जाते है.

VFX Animation

बॉलीवुड या हॉलीवुड मूवी में आपने देखा होगा की मूवी में कुछ Seine की शूटिंग को Blue या Red Background में शूट किया जाता है और इसके बाद इसका Backgound में कुछ विशेष प्रभाव का उपयोग किया जाता है और इसके बाद वह Seine कुछ ऐंसा नजर आता है जो करना या तो मुमकिन नहीं होता है या इसे करने से खतरा हो सकता है और यही VFX Animation का काम होता है.

Animation के अन्दर करियर कैसे बनाये

Animation ऐसा करियर है जिसमें संभावनाओं की कमी नहीं है. डिजिटल दौर में अलग-अलग क्षेत्रों में Animation के बढ़ते इस्तेमाल के कारण इस क्षेत्र में नौकरियां तेजी से बढ़ रही है. फिल्मों के अलावा, गेमिंग, वेब डिजाइनिंग, मेडिकल, प्रिंटिंग, रियल एस्टेट इत्यादि क्षेत्रों में Animation आज महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है. आज दुनियाभर में Animation का बाजार बहुत तेजी से फैल रहा है. पिछले कुछ वर्षों में भारत ने भी इस Field ने नया मुकाम हासिल किया है. आज Post Production House, Studio, TV Channels, Ed Agencies, Web Companies और Games Industry में Animation से जुड़ी नौकरियों की भरमार है. आज Architecture, movie production, E-learning जैसे सभी क्षेत्रों में Animation की जरूरत पड़ती है.

इसके अलावा इसमे सबसे अच्छी बात तो यह है कि Short Term Specialized Course करके भी Students 15-20 हजार रुपये प्रति माह आसानी से हासिल कर सकते है. इसमें कुछ समय के अनुभव के बाद ग्रोथ की संभावनाएं भी अच्छी रहती है. वैसे, फिल्मों में RAW-ONE, Don 2 और इससे पहले Robot व अन्य कई फिल्मों में Special Effects के लिए Animation का जबरदस्त इस्तेमाल हुआ है और आगे भी इस तरह का Trend बढ़ते रहने की संभावना है. आज Cartoon Network, Pogo, Hungama, Nick आदि Channels पर Cartoon देखने के लिए बच्चे दिनभर टीवी खोलकर बैठे रहते है. इन्हें बनाने के लिए Expert की Demand भी Animation Industry मे बढ़ी है. विज्ञापनों में भी Animation का प्रयोग जमकर हो रहा है. इसके साथ ही Computer पर Animation Game बनाने के लिए आज बड़ी-बड़ी कंपनियां मैदान में हैं जहां Trend Professionals की आवश्यकता बड़ी संख्या मे है.

आप 12वीं के बाद Animation से संबंधित Diploma और Degree Course में Admission ले सकते है. कई Institute में 45 प्रतिशत अंकों के साथ बारहवीं पास Candidates को ही स्नातक Course में Admission दिया जाता है. Industrial Design Center (IDC), India Institute of Design जैसे Institute में Architecture, Technology & Engineering, Fine Art में Graduate Students ही Apply कर सकते है. इसके अलावा Designing Character Animation, Gaming इत्यादि में Short Term Courses भी कराए जाते है. आप इस Field में 3D or 2D Modeler, Special Fx Creator, Animator, Character Designer, Game Designer, Interaction Designer आदि में Specialization कर सकते है. Creative लोगों के लिए इस Field में अवसर बहुत ज्यादा है.

Job Scope

Walt Disney, Sony Pictures के अलावा अनेक American Production Companies Animation और Visual Effect के लिए बड़ी तादाद में भारत से Outsourcing कर रही है. एक अनुमान के अनुसार देश में फिलहाल 300 से ज्यादा Animation Studio है जिनके पास हर समय विदेशी Project रहते है. कहा जा रहा है कि Animation भारतीय मनोरंजन उद्योग का भविष्य है. Animation अब फिल्मों ही नहीं बिजनेस, सेल्स, इंजीनियरिंग, शिक्षा और विज्ञापन के क्षेत्र का अहम हिस्सा बन गया है. फैशन डिजाइनिंग, इंटीरियर डिजाइनिंग, मेडिकल, लीगल तथा इंश्योरेंस कंपनीज भी अपने प्रेजेंटेशन के लिए एनिमेशन का इस्तेमाल कर रही है. Animation ने Gaming Industry की तस्वीर बदल दी है. Video और Mobile Games ने अच्छे Animators को Demand में ला दिया है. Website Designing, Graphics Designing, CD Rom Production, 3-D Product Modeling जैसे कुछ अन्य Field भी है जहां Animators के लिए बहुत अवसर है. Animation के जानकारों के लिए Teaching में भी मौके है. आप अगर चाहे तो खुद का काम भी शुरू कर सकते है.

Job Titles

आमतौर एक Animation फिल्म बनाने में करीब 500 Animators की Services ली जाती है. ये Professionals Graphic, Animation, VFX और Web Field से जुड़े लोग होते है. कुछ उदाहरण इस प्रकार है.

  • Modeler - Animation के लिए Model बनाने वाले ऐसे Professional को Anatomy की अच्छी समझ होती है. Model 3-D or 2-D किसी भी स्वरूप में हो सकते है.

  • Story Board Artist - ऐसे पद के लिए व्यक्ति में Drawing Skills मजबूत होनी चाहिए क्योंकि बतौर सStory Board Artist इन्हें पूरी घटना के Sequence तैयार करने होते है. हर Frame का घटनाक्रम यही Professional Visualization करते है.

  • Character Animator - Character Animator किसी भी पात्र को सजीव-सा दिखाने में माहिर होते है. ऐसे लोगों को Traditional Animation, Stop Motion Animation और Clemation की अच्छी जानकारी होती है.

  • Background Artist - ये Professional किसी भी सीन का Background तैयार करने का काम करते है. बात चाहे Character के Background को रंगने की हो या Project के Background का Set तैयार करना हो इसमें इन्हें Specialization हासिल होती है.

  • Layout Artist - ऐसे लोगों का काम किसी Project में कमोबेश Cinematographer की तरह है. यही Professional Light और Camera का Angle तय करते है. साथ ही Animation के लिए Background Design का Sketch भी तैयार करते है.

  • 2-D Animator - अलग-अलग Drawing के जरिये Sequence को परिभाषित करने का जिम्मा 2-D Animator पर होता है. ये बड़ी आकृति वाले Drawing भी Create करते है.

  • 3-D Animator - ऐसे Professional 3-D Model को सजीव स्वरूप देने का काम करते हैं ताकि आभासी दुनिया वास्तविक दिखे. Frame को इस कुशलता से क्रम में रखा जाता है कि वे चलती-फिरती अवस्था में प्रतीत हो.

Job Titles कुछ अन्य - स्पेशल इफेक्ट आर्टिस्ट, स्कैनर ऑपरेटर, कम्पोजिटिंग आर्टिस्ट, ऑडियो-वीडियो स्पेशलिस्ट, टेक्सचर आर्टिस्ट, रिगिंग आर्टिस्ट, क्लीनअप अर्टिस्ट, लाइटिंग आर्टिस्ट, कम्पोजिटर, की फ्रेम एनिमेटर, इमेज एडिटर, इन-बिटवीन एनिमेटर आदि.

Animation कोर्स की फीस

Animation कोर्स में फीस भिन्न-भिन्न कॉलेजों की भिन्न होती है, इस कोर्स की अनुमानित फीस 30,000 से 1,00,000 हो सकती है

Salary Package

किसी भी एनिमेशन प्रोडक्शन हाउस में इन-हाउस ट्रेनिंग के बाद जूनियर एनिमेटर के तौर पर 15 हजार से 20 हजार रुपए मासिक सैलरी मिल जाती है। अनुभव के बाद कुशल एनिमेटर बनने पर सैलरी 25 हजार से 40 हजार रुपए तक पहुंच जाती है। एंटरप्रेन्योर के रूप में काम करके आप और अधिक कामयाबी पा सकते हैं

3D Film कैसे बनती है

3D Animation Film को बनाने के लिए कई स्तर पर कार्य होते है. सबसे पहले स्क्रिप्ट आपके जेहन में साफ होना चाहिए. फिर इसके हिसाब से कैरेक्टर्स का खाका तैयार किया जाता है. इसके बाद कैरेक्टर्स और कहानी के हिसाब से फिल्म के एनिमेशन तैयार किए जाते है. इसके अलावा, फिल्म से जुड़े कुछ अन्य पहलुओं, जैसे- लाइटिंग, स्क्रिप्ट, डायनेमिक्स, वॉयस रिकॉर्डिंग, डिजिटल एडिटिंग के जरिए एनिमेशन फिल्म तैयार होती है. इस फील्ड में एनिमेशन से जुड़ी तकनीकी बारीकियों की समझ आप के लिए महत्वपूर्ण साबित हो सकती है.

Computer Article in Hindi