CSS3 in Hindi Tutorial




Cascading Style Sheets CSS का एक Style Sheets Format है जो कि World Wide Web Consortium (W3C) के द्वारा Approved है. CSS3 आसान Syntax का प्रयोग करते हुए HTML Documents के साथ काम करता है.

CSS3 (Version 3.0) Development मे जारी रहता है और इसमे बेहतर Highlights शामिल होते है जैसे Vertical Text, Extensive Backgrounds और Borders, Speech Recognition और User Interaction आदि.

ज़्यादातर Web Browsers CSS3 को Support करते है क्योंकि यह अधिक लोकप्रिय होता है और अधिक Web Designers CSS3 मे Layout Design के उपयोग को लागू करते है.

CSS3 History

Style Sheets का Development Markup Language को अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए किया गया था. यह SGML की शुरुआत मे 1980 के दशक के आसपास मे Discovered की गई थी.

CSS का तीसरा स्तर 1998 के आसपास Developed करने के लिए शुरू किया गया था और 2009 तक यह Development के अधीन था.

CSS3 का पहला कार्य Draft 19-01-2001 मे आया था और जब से पहले परिचय अभी भी यह Under Construction है.

CSS2 मे कुछ निश्चित कमियां थीं और Developer ने इसकी Stupidity की वजह से CSS3 को Developed किया था.

CSS3 को इसकी विशिष्टताओं के अनुसार इसे अलग-अलग Modules मे Divided किया गया है.

CSS3 का पहला कार्य Draft 19-01-2001 को आया था लेकिन शुरुआत में इसे जून 1999 मे Declared किया गया था.