Computer Full Form in Hindi




Computer Full Form in Hindi, Computer Full Form, कंप्यूटर फुल फॉर्म इन हिंदी, Computer ke Full form kya hote hai, Full Form in hindi Computer, Computer Full Form, Computer Full Form Hindi Computer Full Form क्या है, Computer का Full Form क्या है, कंप्यूटर की फुल फॉर्म क्या होती है, Computer का हिंदी में क्या मतलब होता है, Computer का पूरा नाम और हिंदी में क्या अर्थ होता है, ऐसे सभी सवालों के जबाब आपको इस Post मे मिल जायेंगे.

Computer Full Form in Hindi - कंप्यूटर फुल फॉर्म इन हिंदी

Computer की फुल फॉर्म Commonly Operating Machine Particularly Used for Technical Educational Research होती है. आज की दुनिया एक सूचना समृद्ध दुनिया है और Computer के बारे में सभी को जानना जरूरी है. एक Computer एक Electronic Data Processing Device है जो Data Input को Accepts करता है और Store करता है और Data Input को Processes करता है और Output को एक आवश्यक प्रारूप में उत्पन्न करता है.

Computer कई अलग-अलग तरह के होते है जैसे कि इसे आप Mobile के रूप में देख सकते हैं Tablet के रूप में देख सकते है Laptop आदि. Computer आज कई अलग अलग रूप में मौजूद है जैसे कि - Mobile, Tablet, Clock, Laptop, Desktop आदि इन्ही अलग-अलग रूपो की वजह से आज हम कोई भी Information बहुत जल्द प्राप्त कर लेते है.

कंप्यूटर का इतिहास

कंप्यूटर का इतिहास कई वर्षों पुराना है. कंप्यूटर की पाँच प्रमुख Generation हैं. प्रत्येक Generation ने कई तकनीकी विकास देखे हैं जो कंप्यूटर की कार्यक्षमता को बदलते हैं. इसके परिणामस्वरूप अधिक कॉम्पैक्ट, शक्तिशाली, मजबूत सिस्टम हैं जो कम महंगे हैं. कंप्यूटर के संक्षिप्त इतिहास के बारे में आप नीचे विस्तार से देख सकते है -

आइए अब हम विभिन्न पीढ़ियों में कंप्यूटर प्रौद्योगिकी के विकास पर चर्चा करते है -

First Generation

कंप्यूटर की पहली Generation 1940 से 1956 की अवधि के रूप में मानी जाती है. कंप्यूटर की First Generation वैक्यूम ट्यूब या थर्मिओनिक वाल्व मशीन का उपयोग करके Developed की गयी थी.

इस प्रणाली का Input Punched Cards और Paper Tape पर आधारित था. हालाँकि Output Printouts पर प्रदर्शित किया गया था. कंप्यूटर की पहली Generation बाइनरी-कोडेड अवधारणा (यानी, 0-1 की भाषा) पर काम करती थी.

Second Generation

कंप्यूटर की दूसरी Generation 1956 से 1963 की अवधि के रूप में मानी जाती है. कंप्यूटर की Second Generation ट्रांजिस्टर प्रौद्योगिकी का उपयोग करके Developed की गयी थी. पहली Generation की तुलना में, दूसरी Generation का आकार छोटा था. पहली Generation के कंप्यूटरों की तुलना में, दूसरी Generation के कंप्यूटरों द्वारा लिया जाने वाला कंप्यूटिंग समय कम था.

Third Generation

कंप्यूटर की तीसरी Generation 1963 to 1971 की अवधि के रूप में मानी जाती है. तीसरी Generation के कंप्यूटर को इंटीग्रेटेड सर्किट (IC) तकनीक का उपयोग करके Developed किया गया था.

दूसरी Generation के कंप्यूटरों की तुलना में तीसरी Generation के कंप्यूटरों का आकार छोटा था. दूसरी Generation के कंप्यूटरों की तुलना में, तीसरी Generation के कंप्यूटरों द्वारा लिया जाने वाला कंप्यूटिंग समय कम था.

तीसरी Generation के कंप्यूटर ने कम बिजली की खपत की और कम गर्मी भी उत्पन्न की. तीसरी Generation में कंप्यूटर की रखरखाव लागत भी कम थी. तीसरी Generation के कंप्यूटरों का कंप्यूटर सिस्टम व्यावसायिक उपयोग के लिए आसान था.

Fourth Generation

कंप्यूटर की चौथी Generation 1972 से 2010 की अवधि के रूप में मानी जाती है. माइक्रोप्रोसेसर प्रौद्योगिकी का उपयोग करके चौथी Generation के कंप्यूटर Developed किए गए थे. चौथी Generation में आने से, कंप्यूटर आकार में बहुत छोटा हो गया था और यह पोर्टेबल हो गया था.

चौथी Generation की मशीन ने बहुत कम मात्रा में गर्मी पैदा करना शुरू कर दिया था. इसमें पिछली Generation की तुलना में उत्पादन लागत बहुत कम हो गई थी.

Fifth Generation

कंप्यूटर की पांचवीं Generation 2010 से अब तक की अवधि के रूप में मानी जाती है. उस समय तक, कंप्यूटर Generation को केवल हार्डवेयर के आधार पर वर्गीकृत किया जा रहा था, लेकिन पांचवीं Generation की तकनीक में सॉफ्टवेयर भी शामिल था. पांचवीं Generation के कंप्यूटरों में उच्च क्षमता और बड़ी मेमोरी क्षमता थी.

इस Generation के कंप्यूटरों के साथ काम करना तेज था और एक साथ कई कार्य किए जा सकते थे. पाँचवीं Generation की कुछ लोकप्रिय उन्नत तकनीकों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, क्वांटम कम्प्यूटेशन, नैनो टेक्नोलॉजी, पैरेलल प्रोसेसिंग आदि शामिल हैं.

कंप्यूटर के प्रकार

कंप्यूटर चार प्रकार के होते है जिनके बारे मे आप नीचे विस्तार से देख सकते है.

  • Super Computer - यह कंप्यूटर सबसे तेज़ है और बहुत महंगा भी है. एक विशिष्ट सुपरकंप्यूटर प्रति सेकंड दस ट्रिलियन व्यक्तिगत गणनाओं को हल कर सकता है.

  • Mainframe Computer - यह उच्च क्षमता और महंगा कंप्यूटर है। इसका उपयोग बड़े पैमाने पर बड़े संगठनों द्वारा किया जाता है जहां कई लोग एक साथ इसका उपयोग कर सकते हैं.

  • Workstation Computer - इस श्रेणी का कंप्यूटर एक उच्च अंत और महंगा होता है. यह विशेष रूप से जटिल कार्य उद्देश्य के लिए बनाया गया है.

  • Personal Computer - यह एक कम क्षमता वाला कंप्यूटर है जो एकल उपयोगकर्ताओं के लिए विकसित किया गया है.


Related Full Form in Hindi