MICR Full Form in Hindi




MICR Full Form in Hindi, MICR का Full Form क्या है, MICR क्या होता है, एमआईसीआर क्या है, MICR का पूरा नाम और हिंदी में क्या अर्थ होता है, ऐसे सभी सवालो के जबाब आपको इस Post में मिल जायेंगे.

MICR Full Form in Hindi - एमआईसीआर क्या होता है

MICR की फुल फॉर्म Magnetic Ink Character Recognition होती है. इसको हिन्दी में चुंबकीय स्याही चरित्र पहचान कहते है. एमआईसीआर कोड पहचान के लिए इसमे स्याही का मेगनेटिक करेक्टर होता है जो चेक के नीचे एक White Line के रुप मे पाया जाता है जिसे एमआईसीआर बैंड कहते है. इस कोड़ का उपयोग International Transaction के लिए भी किया जाता है. इस कोड के उपयोग से Transaction मे धन की सुरक्षा बढ़ जाती है.

एमआईसीआर बहुत पुरानी विधि है जो धन की सुरक्षा के लिए एक Negotiable Instruments होता है. Cheque की Processing के लिए यह विधि सुविधाजनक है. एमआईसीआर कोड से Cheque के संबंध मे विस्तृत जानकारी जुड़ी रहती है जो Cheque के 9 Number के अनुक्रम से दर्शायी जाती है.

पहली तीन संख्या City को Show करती है जबकि अगली तीन संख्या Bank की जानकारी तथा अंतिम तीन संख्या Bank की Branch के संबंध मे जानकारी उपलब्ध कराता है. National Electronic Fund का परिचय रिजर्व बैंक ने कराया है जिससे Fund को तेजी से तथा सावधानी से एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजा जा सकता है.

MICR विशेष Magnetic स्याही से लिखा जाता है जिससे फ्राड मामलो को तुरन्त Magnetic Scanner से पहचाना जा सकता है. माना कि विशेष एमआईसीआर कोड यदि 110229003 है तो इसमे पहली तीन संख्या City का नाम बताती है मध्य की तीन संख्या के Bank के नाम की जानकारी देती है, जबकि अंतिम तीन बैंक के Branch की जानकारी देती है.

110 - City Code

229 - Bank code

003 - Branch Code

MICR कैसे काम करता है

MICR कोड कोदो प्रकार के फ़ॉन्ट का उपयोग करते हुए दस्तावेज़ पर Print किया जाता है, एक E-13B है और अन्य CMC-7 है. इसमें उपयोग की जाने वाली स्याही एक चुंबकीय स्याही होती है. एमआईसीआर कोड एमआईसीआर रीडर से पारित किया जाता है जो पात्रों को कुशलतापूर्वक पढ़ने की अनुमति देता है जिन्हें स्टांप और हस्ताक्षर जैसे अन्य निशान द्वारा अस्पष्ट किया गया है.

MICR की विशेषताएं

  • यह आसानी से पढ़ने योग्य है भले ही इस पर कुछ मोहर या हस्ताक्षर हो.

  • MICE में इस्तेमाल होने वाले Cartridges सामान्य Cartridges की तुलना में बहुत महंगी होती हैं.

  • इसकी आज के समय में बहुत ज्यादा मांग है. MICR फोंट जो इन मांगों को पूरा नहीं करते हैं वो अस्वीकार कर दिया जाता है.

  • यह एक उच्च स्तर की सुरक्षा प्रदान करता है क्योंकि सटीक स्याही का पालन करना मुश्किल होता है जो दस्तावेज़ को जाली बनाना मुश्किल बनाता है.

IFSC Code और MICR Code में क्या अंतर है

IFSC Code और MICR Code में अनिवार्य रूप से यह अंतर है कि NEFT और RTGS के माध्यम से धन का भुगतान करते समय IFSC कोड का उपयोग किया जाता है. दूसरी ओर MICR कोड का उपयोग केवल चेक पत्तियों पर किया जाता है. तो यह काफी हद तक चेक की प्रणाली के साथ है, जबकि IFSC कोड बड़े पैमाने पर NEFT और RTGS सिस्टम के साथ है और सुविधा के लिए Cheque Leaves पर भी इसका उल्लेख किया गया है.

इसलिए, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि दोनों उल्लेखनीय रूप से एक दूसरे से भिन्न हैं. भुगतान के इलेक्ट्रॉनिक रूप के आगमन ने IFSC कोड के उपयोग पर अधिक से अधिक जोर देने का मार्ग Spacious किया है. आज के समय में आप किसी लाभार्थी को राशि नहीं भेज सकते हैं जब तक कि आपके पास आईएफएससी कोड नहीं है, जो पहले से कहीं अधिक महान हस्ताक्षर है. इसलिए, यह सुनिश्चित करें कि आपके पास पैसे भेजने और प्राप्त करने से पहले आपके पास यह है.


Related Full Form in Hindi