Sensex Full Form in Hindi




Sensex Full Form in Hindi, Sensex का Full Form क्या है, Sensex क्या होता है, सेंसेक्स क्या है, सेंसेक्स क्या होता है और इसे कैसे गिनते हैं, इसका स्टॉक मार्किट मे क्या महत्व होता है ऐसे सभी सवालो के जबाब आपको इस Post में मिल जायेंगे.

Sensex Full Form in Hindi - सेंसेक्स क्या होता है

Sensex की फुल फॉर्म Stock Exchange Sensitive Index होती है. Sensex को हिन्दी मे संवेदी सूचकांक कहते हैं जो Mumbai Stock Exchange का एक सूचकांक है. भारत जैसे बड़े अर्थव्यवस्था वाले देशों मे कंपनियों के शेयरों की कीमतों के आंकलन के लिए दो सूचकांक बनाये गये है. शेयर बाजार मे इन कंपनियों के शेयरों की बढ़ती घटती कीमतो पर नजर रखता है. Sensex बढ़ती-घटती कीमतों को बाजार के सामने प्रस्तुत करता है. NIFTY सूचकांक भी एक प्रकार का सूचकांक है जिस का संबंध नेशनल स्टॉक एक्सचेंज है.

शेयर बाजार वह बाजार होता है जहां पर Company अपने शेयर को बेच सकती है और निवेशक मोल भाव करके खरीद सकता है. मान ले एक निवेशक ने 25 लाख रुपये से 25 शेयर खरीदा था फायदे की स्थिति मे 25 लाख रुपए कमा रहा था जबकि नुकसान की स्थिति मे 25 लाख रुपये का नुकसान हो रहा था.

अब निवेशक पूरे साल में किसी भी समय अपने शेयर को बेच सकता है अगर वह निवेशक फायदे की स्थिति में सभी शेयरों को बेच देता है तो उसे 25 लाख का मुनाफा हो जाता है. इस खरीद फरोख्त के लिए एक बाजार चाहिए होता है उस बाजार को ही शेयर बाजार कहते है.

भारत मे दो प्रमुख Stock Exchange है जिससे लोग सेंसेक्स या शेयर बाजार समझते है.

  • Mumbai Stock Exchange

  • National Stock Exchange

Mumbai Stock Exchange

Mumbai Stock Exchange के कितने नाम है क्या इसे सेंसेक्स कहना उचित होगा इन नामो से Mumbai Stock Exchange को लोग जानते है.

  • बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज

  • मुंबई शेयर बाजार

  • मुंबई संवेदी सूचकांक

  • बीएसई सेंसेक्स

  • बसे सेंसेक्स

  • बीएसई

Mumbai Stock Exchange एशिया का सबसे पुराना शेयर बाजार है जिसकी स्थापना 1875 मे हुई थी जबकि भारत सरकार से मान्यता Securities Contract Regulation Act के तहत 31अगस्त 1957 मे मिला था. वर्ष 1978-79 को आधारवर्ष माना जाता है उस समय सेंसेक्स का आधार मूल्य मात्र 100 रुपये था सेंसेक्स की रचना 1986 मे हुई थी.

Mumbai Stock Exchange के इतिहास मे 1850 के दशकों मे शेयर दलालो की पहली बैठक मुंबई मे टाऊन हॉल के सामन बरगद के पेड़ के नीच हुई थी जबकि दूसरा स्थान महात्मा गांधी रोड था. आखिरकार 1874 मे दलालो को एक स्थायी स्थान मिला जिसे आज समय दलाल स्ट्रीट कहते है.

14 मार्च, 1995 मे Automated Trading System का शुरुआत हुआ जिससे निवेदक ऑनलाइन ट्रेडिंग करना शुरु किया था. 1997 मे बोल्ट नेटवर्क के जरिए राष्ट्रीय स्तर पर फैलाया गया. 2002 मे Mumbai Stock Exchange का नाम बदलकर बीएसई सेंसेक्स रखा गया था मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का मुख्यालय मुंबई है.

National Stock Exchange

National Stock Exchange को अप्रैल 1993 में सेबी के द्वारा स्टॉक एक्सचेंज के रूप मे मान्यता मिली और 1994 मे परिचालन शुरू किया गया था. National Stock Exchange भारत का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है और विश्व का तीसरा बड़ा स्टॉक एक्सचेंज होने का गौरव प्राप्त है. National Stock Exchange का मुख्यालय मुंबई है National Stock Exchange को कुछ लोग NIFTY मान लेते है आपको बता दूं कि NIFTY National Stock Exchange का एक सूचकांक है


Related Full Form in Hindi