VIRUS Full Form in Hindi




VIRUS Full Form in Hindi, VIRUS का Full Form क्या है, VIRUS क्या होता है, वायरस क्या है, VIRUS का पूरा नाम और हिंदी में क्या अर्थ होता है, ऐसे सभी सवालो के जबाब आपको इस Post में मिल जायेंगे.

VIRUS Full Form in Hindi - वायरस क्या होता है

VIRUS की फुल फॉर्म Vital Information Resources Under Siege होती है. VIRUS कम्प्यूटर मे छोटे- छोटे प्रोग्राम होते है. VIRUS Auto Execute Program होते जो कम्प्यूटर मे प्रवेष करके कम्प्यूटर की कार्य प्रणाली को प्रभावित करते है. VIRUS एक Malicious Program है जो कंप्यूटर के डाटा को क्षतिग्रस्त करता है. यह कंप्यूटर डाटा मिटाने या उसे खराब करने का कार्य करता है. VIRUS जानबूझकर लिखा गया Program है. यह कंप्यूटर के बूट से अपने को जोड़ लेता है और कंप्यूटर जितनी बार बूट करता है वायरस उतना ही अधिक फैलता है.

VIRUS हार्ड डिस्क के बूट सेक्टर मे प्रवेश कर के हार्ड डिस्क की गति को धीमा कर देता है और Program चलने से भी रोक सकता है. कई VIRUS काफी समय पश्चात भी डाटा और Program को नुकसान पंहुचा सकते है. किसी भी Program से जुड़ा वायरस तब तक सक्रीय नही होता जब तक Program को चलाया न जाय. VIRUS जब सक्रीय होता है तो कंप्यूटर मेमोरी मे अपने को जोड़ लेता है और फैलने लगता है.

Program वायरस प्रोग्राम फ़ाइल को प्रभावित करता है. बूट वायरस बूट रिकॉर्ड, पार्टीशन और एलोकेशन टेबल को प्रभावित करता है. Computer मे वायरस फैलने के कई कारण हो सकते है Infected Floppy Disk, Infected CD या Infected Pen Drive आदि वायरस फ़ैलाने मे सहायक है. E-mails, Games, Internet Files द्वारा भी वायरस कंप्यूटर मे फ़ैल सकता है.

VIRUS के प्रकार

  • Boot Sector Viruses

  • Program Viruses

  • Multipartite Viruses

  • Stealth Viruses

  • Macro Viruses

  • Polymorphic Viruses

  • Active X Viruses

  • Browser Hijacker

  • Resident Viruses

  • File Infector Viruses

कुछ ऐसे मैलवेयर जो वायरस के रूप मे भी जाने जाते है जैसे की

  • Computer Worms

  • Trojan Horse

  • Spam Virus

  • Spyware

  • Zombies

VIRUS का निर्माण इंसान द्वारा ही किया जाता है यह ज्यादातर प्राइवेट जानकारी हासिल करने के लिए, डाटा ख़राब करने के लिए, मजाकिया संदेश कंप्यूटर पर दिखाने के लिए लोग VIRUS को प्रयोग मे लाते है. Computer VIRUS की वजह से हर साल करोड़ो रूपए का नुक्सान होता है.

उदहारण के लिए आप Ransomware VIRUS देखलो जो आपके कंप्यूटर को लॉक कर देता है और हैकर फिरोती हासिल करने के बाद ही इस VIRUS को हटाता है. ज्यादातर VIRUS विंडोज सिस्टम के लिए बनाये जाते है. VIRUS से बचने के लिए लोग Anti VIRUS अपने कंप्यूटर मे इनस्टॉल रखते है जो VIRUS को आने से रोकता है.


Related Full Form in Hindi