Li-Fi क्या है - What is Li-Fi in Hindi




Technology सबसे तेजी से बदलती हैं और हमारे बहुत से काम को आसान भी कर देती हैं. अभी तक Wireless Network बनाने के लिए Wi-Fi Technology का उपयोग करते है लेकिन हो सकता है भविष्य मे इसकी जगह Li-Fi Technology ले ले. भारत मे इस Technology पर अभी Testing चल रही हैं. इस Technology की अपनी कुछ खाशियत और कुछ कमियाँ भी है जिसपर हम इस Post मे चर्चा करेंगे.

LiFi का पूरा नाम Light Fidelity है. यहा एक Wireless Optical Network Technology है. जिसमे Data Transmission के लिए Light-Emitting Diodes यानी LED Lights का उपयोग किया जाता है. LiFi Technology की शुरुवात University of Edinburgh के Professor Herald Haas ने की थी. 2011 मे उन्होंने Li-Fi Concept को लोगो के सामने रखा था और उन्होंने ये बताया Li Light की मदद से हम कैसे अपने Data का Transmission या Communication कर सकते है. उसके बाद से वो इस Technology पे काम करते आ रहे है.

LiFi Technology Light Fidelity बाकि सभी Technology जो Data का Transmission या Communication करती है. उन सब के मुकाबले कई गुना तेज काम करने वाली Technology है. इसके एक Testing मे Professor Harald Haas ने Data को Transfer कर के दिखाया था तो उस Time पर LiFi के जरिये 224 GB/second की Speed से Data को Transfer किया गया था.

LiFi काम कैसे करता है

LiFi Technology को पूरा करने में छोटी- बड़ी बहुत सारी Technology का उपयोग किया गया है. LiFi Technology Visible Light Communication (VLC) पर आधारित है. जैसा की आपके घर के TV का Remote काम करता है. जब भी आप Remote के Button को दबाते है तो Remote मे लगी हुयी LED Light से Signal TV मे लगे Receiver मे जाता है और Receiver Signal मिलने पर अपना काम करता है. तो LiFi भी VLC पर काम करता है

LiFi का उपयोग

LiFi Technology मे एक LED Bulb होगा उस Bulb की Light Range जहाँ तक होगी वह तक LiFi की Range होगी. Range को बढाने के लिए अलग अलग बहुत से Light लगायी जाएगी जिससे की आपके Home या Office के पुरे Area को Cover किया जा सके ये उसी प्रकार होगा जैसा की WiFi की Range को बढाने के एक के बाद एक बहुत से Router को लगाया जाता है.

Advantages of Li-Fi

  • LiFi Technology Hacking जैसी मुसीबतों को रोकने में काफी मददगार साबित होगी.

  • LiFi में बहुत सरे Device एक साथ Connect हो सकते है और उसके बाद भी इसकी Speed में कोई अंतर नहीं आता है.

  • इस Technology के माध्यम से कम समय में अधिक Data Transfer किया जा सकेगा. यह Technology WiFi से 100 गुना तेज होगा.

  • LiFi को Electromagnetic Sensitive Areas जैसे कि विमान के केबिन, अस्पतालों और परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में विद्युत चुम्बकीय हस्तक्षेप के बिना उपयोगी होने का फायदा है.

LiFi Technology की खोज किसने की

LiFi Technology का आविष्कार Edinburgh University के एक Professor Harald Haas ने 2011 में किया था. यह भी Wi-Fi की तरह ही एक Wireless Networking Facility है.

Internet Article in Hindi