Proxy Server Kya Hai - What is Proxy Server in Hindi




Proxy Server आपके और Internet के बीच एक Mediator या Representative का काम करता है. जब आप किसी Block Website को Proxy Server के जरिये खोलते है तो Internet पर आपका IP Address Hide कर दिया जाता है और कोई एक ऐसा IP Address Show कराया जाता है जिस पर वह Site Block न हो. इस तरह से आपके और आपके Internet Server के बीच Proxy Server एक Bypass Connection तैयार कर देता है. जिससे आप Block Websites को Open कर पाते है. जब आप ऐसा करते है तो आप Internet पर गुमनाम रहते है Proxy Server आपकी असली पहचान को Hide कर देता है.

Proxy Server कैसे काम करता है

जैसा की आप जानते हैं की Internet से जुड़े सभी कंप्यूटर के अपने-अपने Unique IP Address होते हैं जो की उन कंप्यूटर का Identification बताते है और इसी IP Address के जरिये ही Internet को पता चलता है की कौन सा कंप्यूटर किस Location पर है ताकि सही Data सही कंप्यूटर तक पहुँचाया जा सके.

Proxy Server भी एक प्रकार का कंप्यूटर होता है और इसका भी एक Unique IP Address होता है. आपको जब कोई Resource जैसे कोई Website या File चाहिए ती है तो उसके लिए आपका कंप्यूटर सबसे पहले Proxy Server को Request - http, https, ftp भेजता है.

Proxy Server को Request मिलते ही वह आपके लिए वही Request उस Destination Server पर Send कर देता है जहाँ पर वह Resource Website या File Store रहता है. आपके Computer और Server के बीच सीधे तौर पर कोई Communication नही होता इसलिए Server को आपकी IP Address का पता नही चल पता इससे आपके System की Identity Hide की जाती है.

Proxy Server का क्या उपयोग है

Proxy Server का उपयोग ज्यादातर सुरक्षा कारण से अपना IP Address Hide करने के लिए किया जाता है इसके अलावा आप भी किसी Blocked Website को Access करने के लिए भी इसका Use किया जाता है. तो चलिए अब Detail से जानते हैं की आखिर Proxy Server का क्या काम होता है और इसका क्यो Use किया जाता है.

  • Internet की Speed बढाने के लिए किसी संगठन मे एक अच्छा Proxy Server लगा कर Network Performance को बढ़या जा सकता है. Proxy Server किसी Website या File को अपने Cache Memory मे Store कर लेता है इससे जब भी आप उस Website को देखना चाहें तो वह सीधे Proxy Server के Local Storage से आप तक पहुँच सकता है यानी Website को Server को Request भेजने की जरूरत नही पड़ेगी इससे समय और Bandwidth की बचत होगी.

  • IP Address को Hide करने के लिए यदि आप किसी Website को सीधे अपने Computer से Access करते है. वह Server जहाँ उस Website को Host किया गया है उस तक आपका IP Address पहुँच जाता है जिससे आपके Location के अलावा आपके बारे मे कुछ अन्य व्यक्तिगत जानकारियाँ Add की जा सकती है. लेकिन आप Proxy Server की मदद से आपने IP Address की Identiy को Hide कर सकते है.

  • Block की गई Website को Access करने के लिए Proxy Server का उपयोग किया जाता है. अक्सर आपने देखा होगा की आपके School, College, Office के Computer मे कुछ Restrictions लगे होते है जिससे आप Internet पर कुछ चीजों को देख नही पाते है इसके अलावा भौगोलिक स्थान या देश के अनुसार Company या Government द्वारा भी कई Websites पर प्रतिबंध लगे होते है इन सारी सुरक्षा प्रतिबंध और Filters को Bypass करने के लिए Proxy Server का उपयोग किया जाता है.

  • System की Security को बढाने के लिए Proxy Server का उपयोग किया जाता है. किसी भी संस्था के लिए अपने Server Hack होने और Data Loss होने खतरा हमेशा बना रहता है. इस मामले मे Proxy Server काफी हद तक कुछ Benefit प्रदान करता है.

Types of Proxy Server

Proxy Server निम्नलिखित प्रकार के होते है -

  • Anonymous Proxy

  • SSL Proxy

  • Transparent Proxy

  • Reverse Proxy

Anonymous Proxy

यह Proxy Client को Privacy उपलब्ध करता है. यह Client के IP Address को Hide कर देता है जिससे कि कोई भी व्यक्ति जैसे Hacker वगैरह Client की Location को Trace नही कर पाते है.

SSL Proxy

SSL (Secure Socket Layer) का प्रयोग किसी भी Online Transaction मे होता है. जैसे आपने Flipkart से कोई भी सामान ख़रीदा तो उनकी Website मे SSL proxy होती है जो हमारे Data को Online Shopping के समय Protect करती है. जिस Website के URL से पहले https होता है वाही SSL होता है.

Transparent Proxy

Transparent Proxy मे Client के Server के द्वारा Request को Internet को Forward भेजा जाता है. इसमे Client की Information को Hide नहीं किया जाता है. इसलिए इसे Forward Proxy भी कहते है.

Reverse Proxy

Reverse proxy का प्रयोग Internet से Request को Client Server तक पहुचाने में किया जाता है.

Advantages of Proxy Server

  • यह Caching के लिए उपयोग होता है. जब कोई Client किसी Information को Access करता है तो वह उस Information को Save कर लेता है जब कोई दूसरा Client उसी Information को Access करता है तो वह अपनी Cache में से ही उस Information को Client को दे देता है. इससे Internet की Speed Increase हो जाती है.

  • यह IP Address को Hide कर देता है इससे Client की Identity किसी को पता नहीं चलती. Internet मे जो भी Information जाती है वह Proxy Server की होती है. जिससे हमारा Network Secure हो जाता है जिससे Hackers यह नहीं जान पाते कि Actual मे जो Request आई है वह कहा से आई है.

  • यह Website को Block कर सकता है अगर Client किसी Website का Use नहीं करना चाहता है तो वह उसे इसके द्वारा Block कर सकता है.

  • इसके द्वारा Client Blocked Websites को भी Open कर सकते है. आपने देखा होगा कि आपके Office मे या College मे कुछ Website जैसे कि- Social Media Sites Open नहीं होती है क्योंकि इन्हें Block किया गया होता है तो हम Proxy Server के द्वारा इन Websites को भी Open कर सकते है.

Internet Article in Hindi