RAM क्या है और कैसे काम करता है - What is RAM in Hindi




Hello Friends Tutorialsroot मे आपका स्वागत है आज हम आपको इस Post में RAM के बारे में बताने जा रहे है जिसमे आपको RAM के बारे में सीखने को मिलेगा हमे आशा है की पिछली बार की तरह इस बार भी आप हमारी Post को पसंद करेंगे. बहुत कम लोग ही जानते होंगे की RAM क्या है और इसका उपयोग कैसे और क्यों किया जाता है अगर आप इसके बारे में नही जानते तो कोई बात नहीं हम आपको इसके बारे में पूरी तरह से जानकारी देंगे इसके लिए हमारी Post को शुरू से अंत तक ज़रुर पढ़े.

कंप्यूटर और मोबाइल में मुख्यत दो तरह के मैमोरी का उपयोग होता है. रैम मैमोरी और रोम मैमोरी. आम उपभोक्ता के लिए यह समझना थोड़ा कठिन होता है कि इनमें अंतर क्या है. वहीं फोन और कंप्यूटर की खरीदारी के दौरान कौन सी मैमोरी ज्यादा उपयोगी है. आज हम आपको इस Post में रैम मैमोरी के बारे में बतायंगे तो चलिए हम बताते है रैम मौमोरी क्या है.

RAM क्या है और कैसे काम करता है - What is RAM in Hindi

RAM की फुल फॉर्म Random Access Memory होती है. RAM को Random-Access-Memory कहते है ये किसी भी कंप्यूटर या Device का सबसे जरूरी हिस्‍सा होती है. आपको मालूम होगा है कि RAM रफ्तार बढ़ाने के काम आती है. RAM मे Data सिर्फ तब तक Save रहता है जब तक इसमे Power Supply रहती है जैसे ही Power Suppy बंद हुई आपका Data Delete हो जायेगा.

RAM एक Temporary Memory है जो हमारे Computer या मोबाइल Apps और Software को चलाने के काम आती है. जब आप कोई सॉफ्टवेर या Apps Start करते है तो वो आपकी RAM पर काम करता है लेकिन जब तक आप वो Start नहीं करते तब तक वो ROM मे Save रहता है.

Software जब Start होते है और काम करते है तब तक RAM की जरूरत होती है. क्योंकि Computer Software से Fastley काम करवाना चाहता है. और ROM की Speed बहुत कम होती है और RAM की Speed बहुत ज्यादा इसलिए कंप्यूटर सॉफ्टवेयर या Apps को RAM पर Start करता है ताकि वो Software जल्दी काम करे. और जब तक Software काम करता है तब तक ही RAM का इस्तेमाल होता है जैसे ही आपने Program बंद किया आपकी RAM से वो Delete हो जायेगा लेकिन ROM मे Save रहेगा.

Types of RAM

RAM दो प्रकार की होती है -

  • DRAM – Dynamic Random Access Memory

  • SRAM – Static Random Access Memory

DRM और SRAM Technology में एक दुसरे से अलग अलग होती है और इनका काम Computer Data को Hold करना होता है. Computer में DRAM का उपयोग ज्यादा होता है लेकिन अगर हम Speed की बात करे तो SRAM की Speed उससे ज्यादा होती है. DRAM हर Second में हजारो बार Refresh होती है लेकिन SRAM को Refresh करने की जरूरत नही होती और इसी वजह से ये ज्यादा High Speed के साथ काम कर पाती है.

DRAM (Dynamic Random Access Memory)

Computer Program के Function को अपने Data को Process करने के लिए कुछ Code की जरूरत होती है तो DRAM का उपयोग Computer में उन्ही Code को उपयोग करने के लिए किया जाता है. RAM Computer Motherboard में लगे Process के पास ही लगी होती है ताकि ये जल्दी से जल्दी Data के Computer Processor तक पहुंचने के सारे मार्गो को Open कर सके.

DRAM Capacitor और Transistor से बने हुए Storage Cell में Data की हर Bit को Store करता है. DRAM को Dynamic Storage Cell इसलिए माना जाता है क्योकि इसे हर Millisecondes में Refresh करने के लिए एक नये Electronic Charge की जरूरत पड़ती है ताकि ये Capacitor से Leek हो रहे Charge की कमी को पूरा कर सके.

DRAM की सबसे खास बात ये है कि इसका आकार साधारण होता है. इसकी Speed भी अच्छी होती है और साथ ही साथ इसकी कीमत भी बाकि की Memory Device से कम होती है. लेकिन इसमें एक कमी ये भी है कि ये बाकि की Device से ज्यादा बिजली का उपयोग करता है और अस्थिर होता है.

SRAM (Static Random Access Memory)

SRAM जब तक Computer को Power Supply मिलती रहती है तब तक Computer Data की हर Bit को Store और Return करता है. DRAM जिसको अपना काम करने के लिए लगातार Refresh होना होता है SRAM बिना Refresh हुए ही अपने काम को करता है और इसी वजह से इसकी Speed DRAM से कहीं ज्यादा होती है. इसे Refresh करने के लिए Electronic Supplies की जरूरत नही होती. इसकी कीमत DRAM की कीमत से कहीं ज्यादा होती है और साथ ही Data को Store करने के लिए इसे DRAM से 4 गुना जगह की जरूरत होती है. इसका उपयोग Level – 1, Level – 2 के cache के लिए किया जाता है जिसे Microprocessor DRAM से पहले Check करता है.

SRAM एक तरह का Semiconductor होता है जो Data को Store करने के लिए Bistable Leaching Circuit का उपयोग करता है. साथ ही ये हाई Capacities पर काम करता है. SRAM का उपयोग भी आप अपने Personal Computer या अपने कार्य स्थल के Computer में CPU की Files, External Cache, CPU Cache, Hard Disk को Buffer करने इत्यादि कार्य करते है. इसके आलावा LED Screens और Printer भी अपनी Images को Display करने के लिए SRAM का उपयोग करता है.

Computer Article in Hindi