C Kya Hai




C Programming Language काफी पुरानी Programming Language के रूप में जानी जाती है, यह एक Structured Programming Language है. C Programming Language की सहायता से Computer या अन्य मशीनो के लिए Programs लिखकर उन्हें Operate किया जाता है. आज जितने भी Advanced Programming Language जैसे की Java, .NET, PHP, Visual Basic, JavaScript आदि, सभी C Programming Language पर आधारित है.

इसलिए अगर आप C Programming Language सिख लेते है तो आपको अन्य Programming Language सीखना काफी सरल हो जायेगा. आज भी C Programming Language का इस्तेमाल System Software और Application Software को बनाने में किया जाता है.

Windows Operating System Linux Operating System और UNIX Operating System को भी बनाने मे C Programming का उपयोग किया गया था.

C Programming को सिखने से पहले आपके Computer मे Turbo C++ Install होना चाहिए। यह एक C++ या C का Compiler है, यह एक प्रकार का Translator है जो Source Code को Object Code में बदलने का काम करता है, सरल शब्दों में, Compiler के द्वारा Program मे Error को Check किया जाता है.

History of C Language (C Programming का इतिहास)

सन 1960 मे Cambridge University ने एक Programming Language का अविष्कार किया जिसको B Programming Language Basic Combined Programming Language का नाम दिया गया. मगर इसमें कुछ खामिया मौजूद थी किन्तु (B) Programming Language एक Open Source Project था और Computer Scientist Dennis Ritchie ने इसमें काफी कुछ सुधार और परिवर्तन किया और (B) Programming Language का संशोधित रूप ने C Programming Language को जन्म दिया. इसलिए, Dennis Ritchie को C Programming Language का निर्माता माना जाता है. C Programming Language का अविष्कार सन 1972 मे Bell Laboratories मे Dennis Ritchie और उनकी टीम द्वारा किया गया था. B Programming Language में संशोधन का मुख्य उद्देश्य UNIX Operating System का निर्माण करना था.

Features of C Programming Language (C प्रोग्रामिंग भाषा की विशेषताएं)

  • C Programming Language में Instructions Command देने के लिए Lower Case Letters का Use किया जाता है.

  • C Programming Language में बनाये जाने वाले Programs के Execute होने की Speed Sharp होती है.

  • C Programming Language की मुख्य Character यह है कि इसमे High Level Programming Language के साथ -साथ Low Level Programming Language के भी संपूर्ण गुण मौजूद होते है.

  • C Programming Language एक ऐसी Programming Language है जिसमें System Software और Application Software दोनों प्रकार के Software बनाये जा सकते है.

  • अधिकतर Computer Software जैसे की रोजमर्रा के Applications, Music Players, Video Editors, Animation Software, Games आदि, C Programming Language का Use कर बनाये जाते है क्योंकि C Programming से बने Programs काफी तेज़ी से Execute होती है.

  • C Programming Language को Assembly Language मे लिखा गया है.

  • C Programming Language को सीखना बहुत ही आसान होता है क्योंकि यह Simple English Language में होती है.

Basic Concepts of C Programming

Basic Syntax

C एक Structured Programming Language है, जो Top to Bottom की तरफ Work करती है. सरल शब्दों में, जब तक Top Clear Execute नही होता है तब तक यह Bottom पर Work नहीं करती है . C Programming का Basic Syntax कुछ इस प्रकार है Header, Body और Code Statements इन तीन चीज़ से मिलकर एक Basic Program बनता है.

C Operators in Hindi

एक operator एक Symbol होता है जो Computer को कुछ Mathematical या Logical Manipulations Display करने के लिए कहता है Operators का उपयोग Program में Data और Variable का हेर फेर करने के लिए उपयोग किया जाता है . C Programming Language संचालन के लिए Various Types के प्रदर्शन करने के लिए कई Operator Provide करती है . जैसे Assignments Operators, Arithmetic Operators, Logical Operators और कई प्रकार के Operators होते हैं और ये ऑपरेटर आमतौर पर कई प्रकार के Variable या Constant पर काम करते है. C Language में Operators के बीच ज्यादातर Operators Binary होता हैं, जिसका अर्थ है कि वे दो Operand लेते हैं और कुछ केवल एक Operand लेते हैं.

C Arrays in Hindi

Array Same Data Type के Variables का Collection होता है दूसरे शब्दो में यह एक समान Data Items का Group होता है, इसका मतलब यह हुआ Array सिर्फ एक ही Type के Data को ही Store करता है. Array एक Special Variable होता हैं जो एक Index का उपयोग करके एक ही Variable के उपयोग से एक से अधिक Value को रख सकता है Arrays को एक बहुत Simple Syntax मे Define किया गया है .

/* defines an array of 10 integers */
int numbers[10];

C Strings in Hindi

Characters के एक Sequence को आमतौर पर एक String के रूप में जाना जाता है Words, Addresses, Name, आदि Sentences को Processed करने के लिए Strings का उपयोग Programming Language मे किया जाता है. C मे एक String बस एक Zero-ending Character Array है String को हमेशा Character Arrays के रूप में Declared किया जाता है दूसरे शब्दों मे Character Arrays को Strings कहा जाता है. C में एक Strings वास्तव में एक Character Array है और एक Individual Character Variable के रूप में केवल एक Letter को Stored करते है हमें String को Store करने के लिए Characters Array की आवश्यकता होती है.

C Data Types in Hindi

Data Type एक Keyword है जिसका उपयोग Data के Type की Identity करने के लिए किया जाता है. आप Computer की मुख्य Memory मे Memory के Space की पर्याप्त मात्रा को Allocated करके Computer की Main Memory में Input के Storage के लिए Data Type का उपयोग किया जाता है. दूसरे शब्दों मे कहे तो Data Type का उपयोग Computer की Main Memory में User के Input को Representation करने के लिए उपयोग किया जाता है.

C Variable in Hindi

C programming Language मे Variables का उपयोग Data Values को Store करने के लिए किया जाता है Continuous के विपरीत Variables Changeable होते है हम एक Program के Execution के दौरान एक Variable की Value को बदल सकते है. एक Variable सिर्फ एक Named क्षेत्र का Storage होता है जो एक Single Value Numerical या Character को रख सकता है और Different Memory Spots पर जहां पर Data Resides है उसको Object कहा जाता है.

C Function in Hindi

Function एक Powerful Programming Tool होता हैं एक Function Code का एक Block होता है जो Specific कार्य करता है इसमें एक Name है और यह Useful होता है इसे आवश्यक कार्यक्रम में कई अलग-अलग हिस्सों से Executed किया जा सकता है और यह Calling Program के लिए एक Value भी वापस कर सकता है. एक Function या तो किसी Value को Return कर सकता है या कुछ भी Return नहीं देता Function एक सब Program है जो Coding करने में आपकी मदद करता है.

C Loops in Hindi

C Language मे Loop Statement का उपयोग Code के एक Block को Executed करने के लिए किया जाता है . यह Block को तब तक Execute करता रहता है जब तक दी गई Condition, True नहीं हो जाती है . हमें जब कुछ Statements को कई बार Executed करने की आवश्यकता होती है, तब हम एक Loop Statement का उपयोग करते है.

C Pointers in Hindi

Pointers एक बहुत Powerful Programming Tool हैं. इसका उपयोग करके आप आपने Programs की Efficiency में सुधार कर सकते है यह Unlimited मात्रा मे Data को संभालने में भी आपकी मदद करता है Pointers कुछ चीजें को बहुत आसान बना सकते है. Pointers का उपयोग व्यापक रूप से Programming में किए जाता है यह Variable Identifier का Use किए बिना किसी अन्य Variable के Memory Place को Referenced करने के लिए उपयोग में लाये जाते है यह Mainly Linked Lists में उपयोग किया जाता हैं और Reference Function द्वारा Call करता है.

C Recursion in Hindi

जिस प्रक्रिया में एक Function सीधे या Indirect रूप से Call करता है उसे Repititive कहा जाता है और इसी Function को Recursive Function कहा जाता है Recursive Algorithm का Use करते हुए, कुछ Problems को बहुत सरलता से Solve किया जा सकता है. Recursive एक programming technique है जो Programmers को Self के reference में कार्य करने की Permission देता है C मे. यह एक ऐसे Function का रूप लेता है जो Self Call करता है Recursive Function के बारे में सोचने के लिए एक उपयोगी तरीका यह है कि उनकी कल्पना एक प्रक्रिया के रूप में की जानी चाहये जहां Instructions में से एक प्रक्रिया दोहरानी होती है.

C File Handling in Hindi

C मे File Handling का मतलब है कि हम File को Create सकते है Open सकते है Delete कर सकते हैं और File में Content को Modify भी कर सकते है. इस Operation के लिए हम कुछ File Handling Function का उपयोग करते है. C Language मे File Handling एक File Disk पर Bytes के Sequence को Represents करती है जहां Related Data का एक Group Store होता है. File Data के Permanent Collection के लिए बनाई गई है यह एक तैयार किया गया Structure है. C Language में, हम एक File को Declare करने के लिए File Type की एक Composition Pointer का उपयोग करते है.