Web Hosting Kya Hai - What is Web Hosting in Hindi




Internet मे आपके Blog या Website के लिए एक जगह की जरुरत होती है जिसे हम Internet की Language मे Web Hosting कहते है. जब हम Internet मे Hosting खरीदते है तो हमें Internet मे एक Space यानि जगह मिलती है जहा हमारा Blog या Website Active रहता है और इस जगह को हम जो भी नाम देते है जिससे लोग हमारी Website या Blog को देखते है उसे हम Domain कहते है.

Web Hosting के अन्दर हमारी सारी Post, Photos, Files Video इत्यादि Save रहती है और ये 24 घटे Active रहती है जिससे की हमारा Blog हमेशा Online रहे अब ये जगह जो हमें प्रदान करते है उन्हे हम Web Hosting कहते है.

Web Hosting कैसे काम करती है

जब भी हम कोई Browser Open करते है जैसे Chrome,Firefox, UC Browser इत्यादि और फिर Address Bar मे जा के URL या फिर कोई Website का नाम डालते है तो URL मे जो Domain नाम होता है वो IP Address से Connect होता है और ये IP Address Domain को Server से Point कर देता है जहाँ पर Website के सरे Content Store किए हुए होते है और Website के सारे Content Load होकर Browser मे Open हो जाते है और हम Website को देख पाते है तो इस तरह से Website Open होते है और हम अपने लिए जो Information Website से लेनी होती है वो हम ले लेते है.

Types of Web Hosting

Web Hosting कितने प्रकार की होती इससे जाना भी जरुरी है वैसे तो Web Hosting बहुत प्रकार की होती है जैसे कि -

  • Shared Web Hosting

  • Virtual Private Server

  • Dedicated Hosting

  • Cloud Web Hosting

Shared Web Hosting

Shared Web Hosting मे बहुत सारी Website को एक ही Web Server मे Store कर के रखा जाता है. इस तरह की Web Hosting Beginner के लिए अच्छी होती है. Shared Hosting में Problem तब आती है जब Website लोकप्रिय हो जाती है और उसमे Traffic बहुत ज़्यादा बढ़ जाता है. Traffic के बढ़ जाने से Server पर लोड बढ़ जाएगा और उसकी Speed traffTrafficic के अनुसार पर्याप्त नहीं होगी. जिससे की Website Slow Speed मे काम करेगी और Page Load होने मे काफी समय लगाएगा. इसके अलावा दूसरी Website जो Shared Hosting में साथ मं है वो भी Slow Speed से काम करने लगेंगी.

Virtual Private Server

Virtual Private Server Hosting को हम VPS Hosting भी कहते है जिस तराह एक Building मे बहोत सारे कमरे यानि Room होते है और आप उस कमरे मे रहते है तो उस कमरे मे सिर्फ आपका हक़ होता है दुसरा कोई आके इसमे नहीं रह सकता. इसी तराह Virtual Private Server Hosting भी ऐसा ही होती है जिसमे एक Server को अलग अलग भाग मे बाटा जाता है और जो भाग मे आपका Website या Blog है वो भाग मे कोई दुसरी Website नहीं आ सकती इसका मतलब ये है की ये आपका Private Server है और इसे आपको किसी और के साथ Share करने की जरुरत नहीं है.

Dedicated Hosting

Dedicated Server Hosting एक आलिशान घर जैसी है जहाँ पर बस आपका अधिकार होता है. और हर तरह की Facility उपलब्ध होती है बस आपको इसके लिए खर्च उठाना पड़ता है अलग अलग Facility का Use करने लिए. Dedicated Hosting में जिस Server का Use किया जाता है वो बहुत Fast होता है और काफी High Speed से काम करता है. और ये सिर्फ एक ही Website के लिए होता है इसीलिए तो इसको Dedicated नाम दिया गया है. Web Hosting Dedicated में जो Server होता है वो केवल एक ही Website के सारे Contents जैसे Photo Video Documents को Store कर के रखता है. इसमें कोई Sharing नहीं होती और कोई दुसरी Website का Content नहीं रहता है. इसीलिए इसकी Speed भी Fast होती है. इसमे Sharing मे कोई दूसरी Website नहीं रहती है इसीलिए ये Hosting थोड़ी महंगी होती है. इस तरह की Hosting का Use ज़्यादातर E-Commerce वाली Website करते है.

Cloud Web Hosting

Cloud Web Hosting एक नया प्रकार की Web Hosting हैं और ये काफी तेज़ी से Market मे फैलती जा रही है. ये दूसरी Hosting से Performance और Cost Wise में थोड़ी विभिन्न होती है. इसमें बहुत सारे Servers एक साथ सिर्फ एक Website के लिए काम करते हैं. ये Website को Secure भी करती है. Group of Servers जब एक साथ मिलकर काम करते हैं तो इसी को Cloud बोलते हैं. इससे High Traffic वाली Website को बहुत आसानी के साथ नियंत्रण किया जाता है.

Internet Article in Hindi