Angularjs Tutorial in Hindi




AngularJS को Single Page Applications बनाने के लिए उपयोग मे लाया जाता है. AngularJS Web Applications या Websites के लिए एक Open Source Javascript MVC Framework है. यह HTML के विस्तार को और गतिशील बनाता है.

Single Page Applications मे हम Databace से Data को Page पर दिखाते है और Page को Refresh करने की जरूरत भी नही होती है. यह एक ऐसा Application है जिसमे हम एक Page से दूसरे Page पर जा सकते है.

AngularJS को अपने Web Page मे जोड़ने के लिए हम उसी प्रकार <script> Tag का उपयोग करते है जैसे कि Javascript के Code को अपने Web Page मे जोड़ने के लिए करते है. Single Page Applications के लिए AngularJS Framework वास्तविक समय अनुभव के लिए Unique Interactive Features को भी बनाता है.

एक Web Developer के रूप मे आपको नियमित आधार पर नए Frameworks का उपयोग करने का तरीका जानने की आवश्यकता होगी AngularJS एक पूर्ण विशेषताओं वाला Frameworks है जो Developer के बीच Unreliable रूप से लोकप्रिय है.

यह Developer के लिए अनुकूल है और एक सहायक और Active समुदाय है. AngularJS के साथ निर्मित उत्पादो मे Youtube Video Manager, Weather Channel Site कई Google Products और Tender शामिल है.

For Example

angular.module('myApp').service('helloService',function(){
this.sayHello=function(){
alert('Hello!! Welcome to services.');
}
});

ऊपर दिए गए के उदाहरण मे आपने देखा कि हमने myApp नाम का एक Angular Module बनाया है और उसमे Service Function का उपयोग भी किया है आपने अपना खुद का एक Service बनाया है जिसका नाम helloService है.

Advantage of AngularJS

  • Dependency Injection - Dependency Injection एक Design Pattern को Specified करता है. जिसमे Components को Component के भीतर Hard Coding की बजाय उनकी Dependency दी जाती है.

  • Two Way Data Binding - AngularJS Select Element और OrderProp Model के बीच दो तरह के Data-binding बनाता है. OrderProp को फिर Order के लिए Input के रूप मे उपयोग किया जाता है.

  • Testing - AngularJS इस तरह से Design किया गया है कि हम शुरुआत से ही परीक्षण कर सकते है. इसलिए Unit Testing और End-to-end Test के माध्यम से इसके किसी भी Component का परीक्षण करना बहुत आसान होता है.

  • Model View Controller - AngularJS मे एक स्वच्छ MVC Way से आवेदन विकसित करना बहुत आसान होता है. इसके लिए आपको बस अपने Application Code को MVC Components यानी Model, View और Controller मे विभाजित करना होगा.